July 21, 2024

HNN MEDIA

हर खबर की सच्चाई

बिग ब्रेकिंग- जोशीमठ तहसील को उसके प्राचीन नाम ‘ज्योतिर्मठ’ से जाना जाएगा..

बिग ब्रेकिंग- जोशीमठ तहसील को उसके प्राचीन नाम ‘ज्योतिर्मठ’ से जाना जाएगा..

 

 

उत्तराखंड: चमोली में स्थित जोशीमठ तहसील अब ज्योतिर्मठ के नाम से जानी जाएगी। भारत सरकार ने नाम बदलने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। जिसके बाद स्थानीय जनता ने इस फैसले का स्वागत किया है। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने पिछले वर्ष जोशीमठ का नाम बदलकर ज्योतिर्मठ करने की घोषणा की थी। सीएम की घोषणा के अनुरूप प्रस्ताव बनाकर भारत सरकार को भेज दिया गया था। अब केंद्र ने ज्योतिर्मठ तहसील के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। स्थानीय जनता ने इस फैसले का स्वागत किया है। आपको बता दें कुछ वर्षों से लगातार स्थानीय लोगों द्वारा जोशीमठ का नाम बदलने की मांग प्रमुखता से उठाई जा रही थी, लेकिन इस पर अमल नहीं हो सका। सीएम धामी ने जनभावनाओं का सम्मान करते हुए जोशीमठ तहसील को ज्योतिर्मठ नाम देने का फैसला किया था। जिसके बाद भारत सरकार ने प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।

आदि गुरु शंकराचार्य ने की थी तपस्या..

मान्यता यह है कि 8वीं सदी में आदि गुरु शंकराचार्य इस क्षेत्र में आए थे। उन्होंने अमर कल्प वृक्ष के नीचे तपस्या की थी, जिससे उन्हें दिव्य ज्ञान ज्योति की प्राप्ति हुई थी। दिव्य ज्ञान ज्योति और जयोतेश्वर महादेव की वजह से इस स्थान को ज्योतिर्मठ का नाम दिया गया, लेकिन यह जोशीमठ के नाम से ही प्रचलित हो गया। इसके बाद नाम बदलने की मांग कई बार प्रमुखता से उठी, लेकिन इस पर अमल नहीं हो सका। सीएम धामी ने जनभावनाओं का सम्मान करते हुए जोशीमठ तहसील को ज्योतिर्मठ नाम देने का फैसला किया।