June 13, 2024

HNN MEDIA

हर खबर की सच्चाई

रंग लाई स्वास्थ्य मंत्री की मुहिम, ई-रक्तकोष पोर्टल पर एक लाख से अधिक लोगों ने किया पंजीकरण..

रंग लाई स्वास्थ्य मंत्री की मुहिम, ई-रक्तकोष पोर्टल पर एक लाख से अधिक लोगों ने किया पंजीकरण..

उत्तराखंड ने देश में बनाया रिकॉर्ड..

 

 

 

 

उत्तराखंड: देश में स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत की मुहिम रंग लाई है। ई-रक्तकोष पोर्टल पर एक लाख से अधिक लोगों ने पंजीकरण किया है। इसके साथ ही उत्तराखंड ने एक रिकॉर्ड बना दिया है। राज्य में 17 सितम्बर आयुष्मान भव कार्यक्रम की शुरूआत हुई है। इसके तहत आयोजित सेवा पखवाड़े के अंतर्गत एक लाख से अधिक लोगों ने स्वैच्छिक रक्तदान हेतु ई-रक्तकोष पोर्टल पर पंजीकरण कराने का पूरे देश में रिकॉर्ड कायम किया है। इस प्रकार राज्य में बीते दो सालों के दौरान स्वैच्छिक रक्तदान हेतु एक लाख 94 हजार से अधिक लोगों ने ई-रक्तकोष पोर्टल पर अपना पंजीकरण किया है।

छह हजार से ज्यादा लोगों ने किया रक्तदान..

दो अक्टूबर तक रक्तदान के लिए पंजीकरण का आंकड़ा दो लाख के पार करने का लक्ष्य रखा गया है। जबकि सेवा पखवाड़े के अंतर्गत 17 सितम्बर 2023 से आयोजित 654 रक्तदान शिविरों में छह हजार 335 लोगों ने स्वैच्छिक रक्तदान किया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिवस 17 सितम्बर 2023 से आगामी दो अक्टूबर 2023 तक देशभर में आयुष्मान भव अभियान के तहत सेवा पखवाड़े का आयोजन किया गया है। जिसमें आयुष्मान आपके द्वार 3.0 के तहत विभिन्न कार्यक्रमों के साथ ही वृहद रूप से रक्तदान शिविरों का भी आयोजन किया जा रहा है।

रंग लाई स्वास्थ्य मंत्री धन सिंह रावत की मुहिम..

आयुष्मान आपके द्वार 3.0 के तहत राज्य में भी स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत की पहल पर प्रत्येक जनपद में राजकीय चिकित्सा केन्द्रों, वेलनेस सेंटरों एवं शिक्षण संस्थानों में रक्तदान शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। जिसके अंतर्गत स्वास्थ्य विभाग के तत्वाधान में एनएसएस, स्काउट्स-गाइड्स, रोवर्स-रेंजर्स, रेडक्रॉस व रेखीय विभागों के सहयोग से रक्तदान हेतु जन जागरूकता अभियान चलाने के साथ ही रक्तदान शिविरों का संचालन किया गया है। सेवा पखवाड़े के तहत अब तक 654 रक्तदान शिविरों में 17 सितम्बर से 29 सितम्बर तक एक लाख 08 हजार 194 लोगों ने स्वैच्छिक रक्तदान हेतु भारत सरकार के पोर्टल ई-रक्तकोष पर अपना पंजीकरण कराया है। जोकि सेवा पखवाड़े के दौरान रखे गए एक लाख पंजीकरण के निर्धारित लक्ष्य को पहले ही पार कर चुका है।